सोच बदलो जिंदगी बदलो | Change Your Thinking Change Your Life By Brian Tracy Book Summary In Hindi

सोच बदलो जिंदगी बदलो |  Soch Badlo Zindagi Badlo By Brian Tracy Book Summary In Hindi
सोच बदलो जिंदगी बदलो | Change Your Thinking Change Your Life By Brian Tracy Book Summary In Hindi
सोच बदलो जिंदगी बदलो | Change Your Thinking Change Your Life By Brian Tracy Book Summary In Hindi

💕Hello Friends,आपका स्वागत है learningforlife.cc में। दोस्तों आप एक बहुत ही अच्छे इंसान हैं। आप ढेर सारी कामयाबियों, खुशी, उल्लास और उमंग से भरी एक बेहतरीन ज़िंदगी के हक़दार हैं। स्वस्थ रिश्ते, उम्दा स्वास्थ्य, अर्थपूर्ण काम और आर्थिक आजादी आपके जन्मसिद्ध अधिकार हैं। ये वो बातें हैं जो आपकी ज़िन्दगी में होनी ही चाहिए। आपमें कामयाबी का गुण मौजूद है और आप ख़ुद के ऑकलन, आत्मसम्मान और स्वाभिमान के ऊँचे स्तर को बनाए रखने की भी कूवत रखते हैं। आप unique हैं, मानव इतिहास में आपके जैसा कोई भी, कभी भी नहीं हुआ है। आपके पास प्रतिभा और काबिलियत का ऐसा अद्भुत भंडार है जिसे जब सही तरीके से पूरी तरह use किया जाएगा तो आपको वो हर चीज़ मिल जाएगी जिसकी आपने तमन्ना की होगी। जब आपको सोचना ही है तो फिर क्यों न बड़ी सोच के साथ बड़े परिणामों को ही हासिल किया जाए? इस पोस्ट में सोच बदलो जिंदगी बदलो जो कि हिंदी version है Change your thinking change your life By Brian Tracy Book की Summary दी जा रही जो आपकी सोच बदलके जिंदगी बदलने में मदद करेगी। तो इस पोस्ट को लास्ट तक पढ़े ……….

1. अपनी सोच को बदलें।

आपकी अपने, अपनी काबिलियत, अपने में छिपी भावनाओं के बारे में सोच – आपके निजी विचार- इस बात का फ़ैसला करते है कि आप आज क्या हैं और भविष्य में क्या होंगे। अपने दिमाग में आने वाले शब्दों, छवियों और विचारों पर नियंत्रण स्थापित करके, आप अपने भविष्य पर पूरा नियंत्रण हासिल कर लेते हैं। कामयाब लोग ज्यादातर समय क्या सोचते है जिस वजह से वे बेहतरीन प्रदर्शन कर पाते है इस पोस्ट में आगे बताया गया है…….

2. अपनी ज़िंदगी को बदलें।

आपका इस दुनिया में आना संभावनाओं और असीमित योग्यता से भरे व्यक्ति के तौर पर होता है। बचपन में नकारात्मक आलोचना के कारण आपके भीतर नाकामी, नुक़सान, उपेक्षा और आलोचना का भय घर कर सकता है। आपकी निजी सोच कमजोर हो सकती है जो आपको आगे बढ़ने से रोक सकती है। इन नकारात्मक भावनाओं पर नियंत्रण (Control) हासिल करके आप अपनी भावनाओं के दरवाज़े खोलकर अपनी ज़िंदगी को ही बदल डालते हैं।

3. बड़े-बड़े सपने देखें।

आपके लिए बेहतरीन जिंदगी की शुरुआत सुनहरे भविष्य की कल्पना के साथ होती है। ऐसी कल्पना कि अगर आपकी राह में कोई भी बाधा न हो तो आपका भविष्य कैसा होगा। कल्पना कीजिए कि आप अपने परिवार, अपनी आर्थिक स्थिति और अपनी निजी ज़िंदगी में कुछ भी बन, कर या पा सकते हैं। फिर सपनों को साकार करने के लिए शानदार योजना वाले लिखित लक्ष्य तैयार कीजिए।

4. धनवान बनने का प्रेरणा लें।

आज ही अपने आथिर्क भविष्य पर पूरा नियंत्रण हासिल करने का संकल्प लें। ये काम करना शुरू करें, जो दूसरों ने आपकी ही स्थिति से आर्थिक तौर पर स्वतंत्र बनने के लिए किए थे। तय कीजिए कि आप कितना कमाना, रखना और हासिल करना चाहते हैं। इन आंकड़ों को लक्ष्यों की तरह तय करें। फिर पूरा वक़्त उनके ही बारे में सोचें। दूसरों ने जो हासिल किया, आप भी कर सकते हैं।

5. जिंदगी की कमान थामें।

आपकी जिंदगी के लिए आप ही जिम्मेदार हैं। आप जो हैं या होंगे आपके द्वारा किए गए काम या किए जाने वाले काम की ही बदौलत होंगे। हर बात के लिए दूसरों को दोष देने की बजाय आज ही अपने पर सौ फ़ीसदी (100%) ज़िम्मेदारी लेने का संकल्प लें। अपनी निजी ताक़त को इस्तेमाल करके, अपने विचारों, शब्दों और काम का नियंत्रण हासिल कर लें। अपने भविष्य के मालिक खुद बनें।

6. बेहतरी का संकल्प लें।

सबसे ज्यादा पुरस्कार और संतोष उन्हीं लोगों को मिलता है, जो अपने काम में बहुत अच्छे होते हैं। अपने क्षेत्र के दस फ़ीसदी (10%) शीर्ष लोगों में स्थान बनाने का संकल्प लें। अपने उन कौशलों को पहचानें जिन्हें बेहतर बनने के लिए तराशना ज़रूरी है, बेहतर प्रदर्शन को अपना लक्ष्य बनाकर एक योजना तैयार करें और फिर हर दिन और बेहतर बनने के लिए काम करते जाएँ।

7. लोगों को प्राथमिकता दें।

लोगो के साथ आपके रिश्ते की गुणवत्ता और मात्रा आपकी कामयाबी और खुशियों को सबसे ज्यादा प्रभावित करती है। अपनी जिंदगी को इस तरह से व्यवस्थित (Manage) करें कि आपके क्षेत्र के सबसे महत्वपूर्ण लोगों के साथ आला दर्जे के विश्वास भरे रिश्ते क़ायम हों। अपने संपर्क क्षेत्र में इज़ाफ़े का प्रयास करते रहें। अन्य सकारात्मक और कामयाब लोगों के निरंतर संपर्क में रहें।

8. विद्वानों की तरह सोचें।

आप मलूतः एक दिमाग हैं, जिसे हलचल के लिए शरीर दिया गया है। आप वो नहीं हैं जो आपको लगता है, बल्कि

वो हैं जो आप सोचते हैं। आपके भीतर पहले की तुलना में ज़्यादा बेहतर सोचने की क्षमता है। जब आप सबसे होशियार और सबसे कामयाब लोगों की तरह सोचने लगते हैं, तो आपको भी जल्द ही उनकी तरह परिणाम मिलने लगेंगे।

9. दिमाग की ताक़त पहचानें।

आज विचार ही समृद्धि (Prosperity) का मंत्र हैं। संभावनाओं के नियम के अनुसार आप अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए जितनी ज़्यादा संभावनाएं तलाशेंगे, आपके सही वक़्त पर सही जगह पर होने की संभावना उतनी ही बढ़ जाएगी। आपको नए विचारों को पैदा करने की क्षमता असीमित है। इसलिए, आपके भविष्य में छिपी संभावनाएँ भी अनंत हैं।

10. दिमाग़ के घोडे दौड़ाएँ।

शीर्ष लोगों द्वारा सोचने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली कुछ रणनीतियाँ और तकनीक हैं। अपनी परिस्थिति के विश्लेषण और मूल्यांकन के लिए आप इनमें से किसी भी एक का इस्तेमाल कर मन की बात समझने की शक्ति और विचार पा सकते हैं, जो आपके पूरे नज़रिए और आपकी पूरी जिंदगी को ही बदलकर रख सकता है। आपके पास सोचने की जितनी ज्यादा तकनीक होंगी, आप अपने लिए उतनी ही बेहतर ज़िंदगी बना पाएँगे।

11. अपना भविष्य खुद बनाएँ।

भविष्य में झांकने और फिर उस भविष्य को सुरक्षित करने के लिए उठाए जाने वाले कदम, इतिहास में कामयाब कहे जाने वाले लोगों की सोच का आधार रहे हैं। सबसे ज़्यादा प्रभावी लोग अपनी ज़िंदगी की योजना काफ़ी सँभलकर बनाते हैं। वे हर संभावित ख़तरे को भांप कर, उसके लिए पहले से ही तैयार रहते हैं। परिणाम यह होता है कि वे अपने आस-पास लोगों की तुलना में बेहतर तरीके से सोच सकते हैं और बेहतर फ़ैसले ले सकते हैं।

12. एक उम्दा जिंदगी जिए।

आपके इर्द-गिर्द की दुनिया आपके भीतर की दुनिया से निर्धारित होती है। हर क्षेत्र में वे ही लोग सबसे ज़्यादा खुश, सबसे ज़्यादा वेतन पाने वाले और सम्मानित हैं, जो उनके चरित्र के गुणों के लिए जाने जाते हैं। जब आप अपनी ज़िंदगी को सत्यनिष्ठा और साहस जैसे दो गुणों के इर्द-गिर्द बुनते हैं, तो आपके लिए हर दरवाज़ा खुल जाता है और आप वाक़ई खुश इंसान बन जाएंगे। आप अपनी सोच को बदलकर अपनी ज़िंदगी को बदल डालेंगे।

बेहतरीन प्रदर्शन के सात क़दम

कामयाब लोग अच्छे मूल्यवान सबक़ सीखने के अलावा,अपने और अपनी जिंदगी के बारे में इन सात विषयों के बारे में वे ज्यादातर वक़्त सोचते रहते हैं।

पहला. भविष्य के बारे में सोचें

सकारात्मक और ख़ुश लोग भविष्य के बारे में ही सोचते हैं। अधिकांश वक़्त वे भविष्य के बारे में ही बोलते और सोचते हैं। वे भूतकाल की बात करने की बजाय इस बात पर चर्चा करते या सोचते हैं कि वे कहाँ जा रहे हैं। वे अपने लिए संभव एक सुनहरे भविष्य की कल्पना करते हैं। आकर्षण के नियम (Law of Attraction) के मुताबिक़ वे भविष्य की उम्मीदों और सपनों की ओर आकर्षित होते हैं और उनकी भविष्य की उम्मीदें और सपने उनकी ओर आकर्षित होते हैं।

दूसरा. अपने लक्ष्यों के बारे में सोचे

वे लक्ष्य के बारे में ही सोचते हैं। वे ज्यादातर वक़्त अपने लक्ष्य के बारे में ही बोलते और सोचते हैं। एक बार उन्होंने अपने आदर्श भविष्य को कल्पना कर ली कि फिर वे उसे स्पष्ट, लिखित लक्ष्य के तौर पर दर्ज कर योजना बनाकर हर रोज़ उसे साकार करने में जुटे रहते हैं। वे अपनी ऊर्जा को लक्ष्य हासिल करने पर ही केंद्रित कर लेते हैं। वे अपने लक्ष्यों को अपने भविष्य का नियंत्रण कर लेने देते हैं।

तीसरा. श्रेष्ट बनने के बारे में सोचें

वे श्रेष्ठता के कायल होते हैं। वे जो भी काम करते हैं उसमें श्रेष्ठ बनना चाहते हैं। वे अपने क्षेत्र के दस फ़ीसदी श्रेष्ठ लोगों में स्थान बनाना चाहते हैं। वे अपने कार्य के महत्वपूर्ण क्षेत्रों (की रिज़ल्ट एरिया) की पहचान करके फिर हर एक में सर्वश्रेष्ठ बनने के अपने मापदंड तैयार करते हैं। वे अपने आप पर और उन मापदंडों पर हर दिन काम करते हैं और सुधार की प्रक्रिया को कभी भी नहीं रोकते।

चौथा. हल के बारे में सोचें

वे हल के बारे में सोचते रहते हैं वे समस्या की जगह उसके हल के बारे में ज्यादा सोचते हैं वे समस्या के लिए किसी को दोष देने की जगह यह सोचते हैं कि उसके हल के लिए क्या किया जाना चाहिए। वे अपनी और अपने से जुड़े लोगों की रचनात्मकता को उभारने के लिए रचनात्मक सोच की तकनीकों को अमल में लाते हैं। वे अपनी समस्याओं को हल करने को लक्ष्य की तरह देखते हैं और इस बात में भी यक़ीन रखते हैं कि हर समस्या का एक हल खोजा जा सकता है।

पाँचवाँ. परिणाम के बारे में सोचें

कामयाब और खुश लोग बड़ी शिद्दत से परिणाम के बारे में सोचते हैं। वे हर दिन की पहले से ही योजना बनाकर रखते हैं। उनकी गतिविधियों की स्पष्ट प्राथमिकताएँ होती हैं। फिर वे उन बातों पर ध्यान देते हैं, जो उनके समय का सबसे ज़्यादा सदुपयोग करें। वे ढेर सारा काम करके सबसे ज़्यादा मेहनती व्यक्ति बनकर उभरते हैं। बहुत प्रभावी और कुशल होने के कारण, वे ज़्यादा काम कर लेते हैं और तेज़ी से आगे बढ़ते हैं। इस तरह वे अपने काम और दुनिया को कुछ ज्यादा दे पाते हैं।

छठा. तरक्की के बारे में सोचें

बेहतरीन दर्जे का प्रदर्शन करने वाले हमेशा तरक्की के बारे में सोचते हैं। वे लगातार पढ़ते रहते हैं, ऑडियो प्रोग्रामों को सुनते रहते हैं और अतिरिक्त कोर्स और सेमीनार अटेंड करते रहते हैं। वे अपने क्षेत्र में सबसे आगे रहने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं। वे जानते हैं कि भविष्य क़ाबिल लोगों का ही होता है और उन लोगों का भी जो अपने प्रतिद्वंद्वी (Competitors) से ज़्यादा जानते हैं। वे जानते हैं कि एक रेस शुरू हो चुकी है और वे भी उसका एक हिस्सा हैं। वे जीतने के लिए संकल्प लेते हैं।

सातवाँ. काम के बारे में सोचें

सबसे कामयाब लोग लगनशील होते हैं। वे यही सोचते हैं कि क्या करके वे अपने लक्ष्य की ओर ज़्यादा तेज़ी से आगे बढ़ सकते हैं। वे हर वक़्त काम में जुटे रहते हैं। वे हक़ीक़त की दुनिया में जीते हैं। वे वक़्त की क़द्र करना जानते हैं। वे औसत (Average) व्यक्ति से ज़्यादा काम करके ज़्यादा फ़ासला तय कर लेते हैं। वे जितना ज़्यादा काम करते हैं, उतने ही बेहतर होते जाते हैं और वे जितने बेहतर होते जाते हैं, उतना ही ज्यादा पैसा कमाने लगते हैं।
*********************************
👆यह Summary है सोच बदलो जिंदगी बदलो | Soch Badlo Zindagi Badlo (Change you thinking change your life) By Brian Tracy Book की। यदि Detail में पढ़ना चाहते है तो इस Book को यहा से खरीद सकते है।

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *